Latest News

Comments system

[blogger][disqus][facebook]

Friday, 1 September 2017

नायब तहसीलदार की गाड़ी में लिखा था मजिस्ट्रेट , तिलमिला गए मजिस्ट्रेट साहब


एसपी ट्रैफिक ने किया मजिस्ट्रेट की गाड़ी का चालान,पढ़ाया कानून का पाठ

कानपुर। ट्रैफिक पुलिस शहर की यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए दिन रात एक किये हुए है जिसको लेकर शहर भर में आये दिन भीड़ भाड़ वाले चौराहों पर चेकिंग अभियान चलाए जा रहे हैं वही गुरूवार को सुबह से ही माल रोड स्थित नरोना चौराहे पर एसपी ट्रेफिक सुशील कुमार के नेतृत्व में सघन चेकिंग अभियान चलाया गया। जिसमें ढाई दर्जन गाड़ियों का चालान किया गया वहीं चार पहिया वाहनों से काली फिल्में उतारी गयीं। खास बात ये रही कि नाबालिग लड़कों की बाइक को सीज़ कर दिया गया। खास बात ये रही कि गाड़ी में मजिस्ट्रेट लिखाये नायब तहसीलदार को भी नही बख्शा गया। उनका चालान  भी कर दिया गया।कानून से बढ़कर कोई नही
नरोना चौराहे पर सुबह से ही ट्रेफिक पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया और बिना हेलमेट के , तीन सवारी, कार में काली फिल्मों के साथ जो भी गुज़रा टीआई दिनेश सिंह और ट्रेफिक सिपाहियों ने पकड़ कर चालान कर दिया। इस दौरान कुछ नाबालिग लड़को को भी रोककर चेकिंग की जिसके बाद उनकी गाड़ी को सीज़ कर दिया गया। खास बात तो ये रही कि ट्रेफिक पुलिस ने नायब तहसीलदार को भी नही बख्शा गाड़ी में बिना सीट बेल्ट लगाए और अपनी गाड़ी में मजिस्ट्रेट लिखाये हुए नायब तहसीलदार वीरेश का भी चालान कर दिया गया। उनसे एसपी ट्रेफिक ने पूछा  कि आप तो नायब तहसीलदार है ये गाड़ी में मजिस्ट्रेट क्यों लिखवाए हैं उनके पास इस प्रश्न के जवाब का कोई उत्तर नही था जिसके बाद उन्हें हिदायत देते हुए उनका चालान काटा गया। अब आप ही बताइए कि क्या किसी नायब तहसीलदार को अपनी गाड़ी में मजिस्ट्रेट लिखवाने का अधिकार है क्या। चेकिंग के दौरान करीब ढाई दर्जन से ज्यादा गाड़ियों का अब तक चालान किया जा चुका है।
हमारे चीफ एडिटर ने SP  ट्रैफिक से जानकारी ली तो पता चला की नायब तहसीलदार की गाड़ी का चालान सीट बेल्ट न लगाने के कारन किया गया !

No comments:

Post a Comment