Latest News

Comments system

[blogger][disqus][facebook]

Friday, 17 November 2017

पार्षद प्रत्याशियों ने किया चुनाव प्रचार तेज



कानपुर  नगर(मधुसूदन यादव) नगर निकाय चुनाव का जैसे-जैसे समय करीब आ रहा है वेैसे-वैसे चुनावी गर्मी बढती जा रही है। शहर के सभी पार्षद अपनी अपनी जीत के प्रयास तेज कर चुके है और जनता के बीच जाकर लोगो से अपने लिए वोट देने की अपील कर रहे है। इसी क्रम में वार्ड 80 बाबूपुरवा से आम आदमी पार्टी के पार्षद प्रत्याशी खुर्शीद अहमद ने क्षेत्रीय वासियों से अपने लिए वोट मांगे। उन्होने कहा कि आम आदमी पार्टी से हूं और आम आदमी की ही बात करता हूं तथा आम आदमी के दुख व दर्द को समझता हूं। कहा कि यदि उनकी विजय होती है तो वह हर आम आदमी की समस्या को स्वंय की समस्या समझेंगे और उसे तत्काल दूर करायेगे।इसी क्रम में वार्ड 105 बाबूपुरवा से निर्दलीय प्रत्याशी खुर्शीद आलम भी अपने वार्ड में पूरी दख-खम में नजर आ रहे है। उन्हे निर्दलीय होने के बाद भी जनता जनता का समर्थन मिल रहा है। उन्होने कहा कि उन्होने पिछले काफी समय से जनता के रह कर काम किया है। कहा पिछले कार्यकाल में क्षेत्र में कोई सुधार नही हुआ बल्कि स्थिति और भी खराब हो गयी। क्षेत्र में बिजली, पानी, सडक, गंदगी की समस्या दूर नही हो सकी। कहा कि अब एक बदलाव का समय आ चुका है और जनता भी यह समझ चुकी है। उन्होने जनसंपर्क कर अपने को वोट देने की अपील की। इस वार्ड से खुर्शीद आलम की दावेंदारी को मजबूत माना जा रहा है।वैसे तो सभी वार्डो में पार्षद पद के प्रत्यार्शियों में आपसी सरगर्मी चल रही है और प्रत्यार्शी हर प्रकार से क्षेत्रवासियों को अपनी तरफ आकर्षित करने में लगे है। या यूं कहे कि पैलगी कर रहे है कुछ ऐसे है जिन्हे पार्टी से टिकट नही मिला और वह पार्टी को छोड अकेले ही अपना झण्डा उठाये हुये है तो कुछ पहले से पार्षदी चुनाव लडने का मन बनाये हुऐ निर्दलीय प्रत्याशी है। ऐसे में पार्टीगत प्रत्यार्शी भी समझ नही पा रहे है कि क्या होगा। कुछ ऐसा ही नजरा वार्ड 55 गुजैनी का भी है जहां बागी, निर्दलीय और पार्टीगत प्रत्याशी अपना भाग्य अजमाने मैदान में उतरे है जिसमें शिव सेना के संजय गुप्ता बमबम, सपा से विमलेश यादव, बीजेपी से अनिल वर्मा, कांग्रेस से रविन्द्र कुमार रावत बिन्नू, बीएसपी से कैलाश पाल चुनावी मैदान में है तो निर्दलीय पूर्व पार्षद रही पूनम यादव के पति श्याम सिंह यादव भी मैदान में अपनी किस्मत अजमाने उतरे है। ऐसे में क्षेत्र की जनता भ्रमित है। जनता जागरूक भी है। लोगो की माने तो उन्होने बीते समय में देख लिया कि क्षेत्र की समस्या के लिए कैसा काम होता है। लोगो ने कहा कि जो उनके काम आयेग उसे ही वोट दिया जायेगा।

No comments:

Post a Comment