Latest News

Comments system

[blogger][disqus][facebook]

Thursday, 7 December 2017

पत्रकार व उसके परिवार पर हमला

अपनी ही जमीन पर नही खडी करने दे रहा था दिवार, कई बार पहले भी कर चुका था दबंग झगडा
कानपुर नगर(रजत सिंह) अभी पत्रकार नवीन का मामला पूरी तरह सुलझ भी नही पाया कि एक और पत्रकार के परिवार पर स्थानीय दबंगो ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। कारण यह रहा है पत्रकार की खाली पडी जगह पर वह दबंग कब्जा करना चाहते थे और उसने वहां दीवार खडी करवानी शुरू कर दी थी। घटना के बाद घायल परिजनों को उर्सला ले जाया गया जहां सभी घायलों का मेडिकल किया गया।घटना के विषय में प्राप्त जानकारी के अनुसार उदयवीर पुत्र स्व0 महावरी प्रसाद जो कृष्णा नगर कस्बा घाटमुपर थाना घाटमपुर निवासी है। उसने बताया कि वह गुरूवार को अपनी जमीन पर दीवार खडी करा रहा है जिसे क्षेत्र के दबंग बलबीर पुत्र स्0 छेदालाल, अखिलेश, कृष्ण कुमार, कृष्ण पाल पुत्र बलबीर बनने नही देना चाहते है। बताया कि इसी निर्माण का विरोध करते हुए उक्त आरोपी जबरन मकान में घुस आये और कुल्हाडा व फावडा से परिजनों पर हमला कर दिया। जिस समय दबंगो ने हमला यिा उस समय राजेन्द्र प्रसाद भाई व भतीजे रामशंकर तथा पत्रकार मधुसूदन मोजूद थे, वहीं बीच बचाव करने आयी रामसखी पत्नी स्व0 श्यामजी के ऊपर भी फावडे से हमला कर दिया। हमले में परिजनो के सिर पर गंभीर चोट पहुंची। बताया कि कृष्ण पाल हाथ में कट्टा लहराते हुए जिन्दा मत छोडने की बात कर रहा था। आरोपी घटना को अंजाम देकर भाग निकले। विवाद का कारण यह है कि पीडित का खाली पडी जमीन पर दबंग अपने जानवर बांधते है ओर गोबर डालते है। अब जब पीडित लोगो ने उसपर दीवार उठाने का काम शुरू किया तो यह दबंगों को नगवांर गुजरा और उन्होने पीडित परिजनों पर हमला कर दिया। बताया गया कि दबंग अखिलेश ने पहले भी इस परिवार पर जमीन कब्जाने को लेकर हमला किया था जिसकी शिकायत भी की गयी थी लेकिन थाना स्तर पर कोई सुनवाई व कार्यवाही न होने के कारण दबंगों के हौसले बुलन्द थे और उन्होने ऐसी घटना को अंजाम दिया।

शातिर अपराधी है दबंग अखिलेश 

आरोपियों में शामिल लोगो ने पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल बना रखा है। लोगों ने बताया कि आये दिन यह मार-पीट करते है वहीं दबंग अखिलेश के खिलाफ थाने में हत्या के प्रयास का मुकदमा भी दर्ज है। बताया जाता है कि अखिलेश ने एक विधालय के प्रधाचानार्च पर भी जानलेवा हमला कर चुका है जिसमें दबंगई व पुलिस की सांठ-गांठ से मामले को सुलझा लिया गया था। वहीं इस घटना पर भी पुलिस की लापरवाही सामने आयी है।  

No comments:

Post a Comment